Monday, 22 October 2018

thevoicelogo150x150रायपुर। रायपुर के यशोदा चिल्ड्रेन हॉस्पिटल प्रबंधन पर गंभीर लापरवाही के आरोप लगे हैं। गुड़ियारी निवासी राजेश गुप्ता ने आरोप लगाया है कि लापरवाही के चलते उनके ढाई साल के बच्चे अंश की मौत हो गई। दरअसल राजेश बुखार होने पर अपने बच्चे का इलाज कराने के लिए अस्पताल पहुंचे थे।हॉस्पिटल में सीनियर डॉक्टर होने के सवाल पर आश्वासन मिला, जिसके बाद बच्चे को भर्ती करवा दिया गया, लेकिन राजेश का दावा है कि वहां डॉक्टर की बजाए वार्ड ब्वॉय दवाओं का हेवी डोज़ देकर बच्चे का इलाज करते रहे, जिसकी वजह से बच्चे को झटके आने लगे। आनन फानन में डॉक्टर को बुलाया गया, जिन्होंने उसे इंजेक्शन दिया, लेकिन अंश का शरीर अकड़ने के थोड़ी देर बाद उसकी मौत हो गयी। हालांकि डॉक्टर की अपनी दलील है। डॉक्टर का कहना है कि बच्चे को पहले भी इलाज के लिए अस्पताल लाया गया था और उसे झटके आने की बीमारी थी। देर रात जब उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया था, उस वक्त भी तेज बुखार था, जो दवा देने के बाद ठीक हो गया, लेकिन कुछ देर बाद उसे झटके आने लगे थे।

शेयर करे...

रायपुर. प्रदेश के 12 लाख से ज्यादा घरेलू बिजली कनेक्शन वाले परिवारों को सहज बिजली बिल योजना का लाभ मिलेगा। डॉ. सिंह ने आज यहां बताया कि सहज बिजली बिल योजना वर्ष 2002 की गरीबी रेखा सूची और वर्ष 2011 की सामाजिक-आर्थिक जनगणना के आधार पर पात्रता रखने वाले बिजली उपभोक्ताओं के लिए शुरू की गई है। योजना के तहत सिंगल फेज के घरेलू कनेक्शनों में 40 यूनिट मासिक निःशुल्क बिजली की खपत सीमा से ज्यादा खपत होने पर हितग्राहियों को वर्तमान में प्रचलित टैरिफ के स्थान पर 100 रूपए हर महीने के हिसाब से फ्लैट रेट बिल भुगतान की सुविधा का विकल्प दिया जा रहा है। यह विकल्प उन सिंगल फेस घरेलू बिजली उपभोक्ताओं को दिया जाएगा, जिनकी वार्षिक बिजली खपत 1200 यूनिट तक होती हैमुख्यमंत्री ने ऐसे बिजली उपभोक्ताओं से योजना के तहत इस वैकल्पिक सुविधा लाभ लेने की अपील की है। उन्होंने कहा कि पांच सितम्बर से शुरू हो रही अटल विकास यात्रा के दौरान सहज बिजली बिल योजना के तहत हितग्राही परिवारों के आवेदन प्राप्त करने के लिए गांवों और शहरों में पुनरीक्षित बिजली बिल वितरण शिविर भी लगाए जाएंगे। मुख्यमंत्री के निर्देश पर इन शिविरों का आयोजन छत्तीसगढ़ विद्युत वितरण कम्पनी द्वारा किया जाएगा। इन शिविरों में गरीब परिवारों को बिजली बिल में और किसानों को सिंचाई पम्पों के लिए फ्लैट रेट का विकल्प दिया जा रहा है।

 
विद्युत वितरण कम्पनी के अधिकारियों ने बताया कि इन शिविरों में प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना (सौभाग्य) के तहत नये विद्युत कनेक्शनों के लिए आवेदन लिए जाएंगे और उपभोक्ताओं के संशोधन योग्य बिजली बिलों का पुनरीक्षण भी किया जा रहा है। इतना ही नहीं बल्कि इन शिविरों में राज्य सरकार की ओर से मुख्यमंत्री सहज बिजली बिल योजना के तहत लाभान्वित होने वाले हितग्राहियों को यह प्रमाण पत्र भी दिया जाएगा कि उनके देयकों को उनके चयनित फ्लैट रेट के विकल्प में परिवर्तित किया गया है। विकल्प चयन करने वाले उपभोक्ता की अगर कोई बकाया राशि होगी तो उस राशि की पुनः गणना भी कुल बकाया महीनों के आधार पर 100 रूपए प्रति माह के मान से की जाएगी।
शेयर करे...

रायपुर 2 सितंबर 2018। सरकार की अनदेखी से खफा छत्तीसगढ़ सहायक शिक्षक फेडरेशन का रुख अब कड़ा होता जा रहा है। लगातार आंदोलन का नतीजा नहीं निकलता देख शिक्षक फेडरेशन ने अब सरकार के खिलाफ बड़ी बगावत का फैसला लिया है। फेडरेशन ने तय किया है कि वो 5 सितंबर को शिक्षक दिवस का बहिष्कार करेगा और उस दिन को काला दिवस के रूप में मनाएगा। इस दिन आयोजित होने वाले किसी भी शासकीय कार्यक्रमों में फेडरेशन से जुड़े शिक्षक शिरकत नहीं करेंगे।

आपको बता दें कि सहायक शिक्षक फेडरेशन अपनी चार सूत्रीय मांगों को लेकर आन्दोलित है जिसके तहत विगत 10 अगस्त को राजधानी रायपुर में संकल्प सभा एवं 28 अगस्त को जिला स्तरीय धरना एवं रैली का आयोजन कर चुका है। संगठन के द्वारा संविलियन पश्चात वर्ग 3 के वेतन विसंगतियों एवं अन्य मांगों को लेकर मूल संगठनों से बगावत करते हुए 1 लाख 9 हज़ार वर्ग 03 अपनी अलग राह पकड़ चुका है। और छत्तीसगढ़ सहायक शिक्षक फेडरेशन बना कर ज़बरदस्त प्रदर्शन कर रहा है।गत 28 अगस्त को हुए आंदोलन की समीक्षा कर आंदोलन को तेज करने एवं आगामी रणनीति के लिए आज फेडरेशन की प्रान्त स्तर की बैठक भामाशाह भवन साहू काम्प्लेक्स टिकरापारा रायपुर में रखी गयी,जिसमे प्रदेश भर के 27 जिलों के 146 विकासखंडों के प्रांत,जिला,ब्लॉक संयोजक उपस्थित हुए ।

सैंकड़ो पदाधिकारियों की उपस्थिति में आगामी शिक्षक दिवस को काली पट्टी लगाकर विरोध करेंगे।शिक्षक दिवस को काला दिवस के रूप में मनाते हुए सरकार द्वारा आयोजित शिक्षक सम्मान समारोहों का बहिष्कार करते हुए “काला दिवस” मनाएंगे।उपरोक्त आंदोलन का निर्णय छ ग सहायक शिक्षक फेडरेशन के समस्त ब्लाक,जिला व प्रांतीय संयोजको की उपस्थिति में आम सहमति से लिया गया।
इस आंदोलन को सफल बनाने का आह्वान सभी ब्लाक ,जिला व प्रांतीय संयोजक
शिव सारथी, रंजीत बैनर्जी, इदरीश ख़ान, जाकेश साहू , अजय गुप्ता , अश्वनी कुर्रे, बसन्त कौशिक, सी.डी.भट्ठ, छोटेलाल साहू,
, हूलेश चन्द्राकर, मनीष मिश्रा, संकीर्तन नंद, सुखनंदन यादव,
व पूरे प्रदेश कें फेडरेशन कें पदाधिकारीयों ने किया हैं।

शेयर करे...

HINDSAT CONTACT

Address :-

Hindsat Bhawan, Near Commissioner Office, Naya Munda Road, Maharani Ward, Jagdalpur

Contact :-

+91 9425258900, +91 7587216999

Email :-

Hindsat365@rediffmail.com

Newsletter

Subscribe to our newsletter. Don’t miss any news or stories.

We do not spam!